FANDOM

2,054,169 Pages

StarIconGreen
LangIcon
Allahi Allah

This song is by Niyaz and appears on the album Niyaz (2005).

अल्लाह ही अल्लाह किया करो
दुख ना किसी को दिया करो
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

अल्लाह ही अल्लाह
अल्लाह ही अल्लाह

( अल्लाह ही अल्लाह किया करो
दुख ना किसी को दिया करो ) – २
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

अल्लाह ही अल्लाह – ३

( अब चेहरे पे झूठ सजाके
मिटती है सचाई ) – २
झूठे को दुनिया में हमेशा
मिलती है रुसवाई

अब चेहरे पे झूठ सजाके
मिटती है सच्चाई
झूठे को दुनिया में हमेशा
मिलती है रुसवाई

( सच की राह पे चला करो
दुख ना किसी को दिया करो ) – २
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

( अल्लाह ही अल्लाह किया करो
दुख ना किसी को दिया करो ) – २
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

अल्लाह ही अल्लाह – ३

( शीशा टूट के जुड़ सकता है
दिल न जुड़े अगर टूटे ) -२
कितना है बेदर्द वोह इन्सां
प्यार का घर जो लूटे

शीशा टूट के जुड़ सकता है
दिल न जुड़े अगर टूटे
कितना है बेदर्द वोह इन्सां
प्यार का घर जो लूटे

( ऐसा ज़ुल्म न किया करो
दुख ना किसी को दिया करो ) -२
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

( अल्लाह ही अल्लाह किया करो
दुख ना किसी को दिया करो ) – २
जो दुनिया का मालिक है
नाम उसही का लिया करो

अल्लाह ही अल्लाह – ६

External links

Community content is available under Copyright unless otherwise noted.